Kv Logo   KV No1
Annual Report

 

वार्षिक प्रतिवेदन

2018-19


केंद्रीय विद्यालय संगठन के निर्देशानुसार केंद्रीय विद्यालय धर्मशाला में वर्ष भर विभिन्न पाठ्य सहगामी गतिविधियों का आयोजन किया गया | इन गतिविधियों  का आयोजन छात्रों को बहुमुखी प्रतिभा संपन्न बनाना रहता है | वर्ष भर में आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं में सभी कक्षाओं से छात्र-छात्राओं ने भाग लिया , साथ ही विभिन्न तरह की कार्यशाला एवं प्रशिक्षण शिविर आयोजित किए जाते हैं जिनमें अध्यापकों एवं छात्र भाग लेते हैं|
सेवाकालीन प्रशिक्षण शिविरों के अंतर्गत श्रीमती नीना डोगरा प्रशिक्षित स्नातक हिंदी ने  केंद्रीय विद्यालय भोपाल में सेवाकालीन प्रशिक्षण  में भाग लिया श्रीमती किरण शर्मा ने प्रशिक्षित स्नातक अंग्रेजी  केंद्रीय विद्यालय देहरादून में इस सेवाकालीन प्रशिक्षण शिविर को पूरा किया श्री राजेश शुक्ला ने केंद्रीय विद्यालय ग्वालियर में इस प्रशिक्षण शिविर को संपन्न किया एवं श्री राजेंद्र सिंह ने केंद्रीय विद्यालय मनोरी , इलाहाबाद में इस सेवाकालीन प्रशिक्षण शिविर में भाग लिया .
जागरूक नागरिक के अंतर्गत कक्षा 7 के विद्यार्थियों को विवेकानंद साहित्य से परिचित करवाया गया एवं समय समय पर भारत के अच्छे नागरिक बनने हेतु विभिन्न प्रकार की गतिविधियां आयोजित की गई l समय-समय पर छात्रों के स्वास्थ्य का भी ध्यान रखा जाता है और इसी अभियान के अंतर्गत विद्यालय के लगभग सभी विद्यार्थियों को कृमि मुक्ति दिवस के अवसर पर कृमि मुक्त होने के लिए सभी विद्यार्थियों को दवाई खिलाई गई  l दिसंबर माह में दादा-दादी , नाना-नानी दिवस का आयोजन किया गया और इसमें लगभग 120  दादा दादी एवं नाना नानी उपस्थित रहे .  इन के लिए विभिन्न प्रकार की खेलों का भी आयोजन किया गया एवं सांस्कृतिक गतिविधियां भी इस समारोह का आकर्षण रही तीन दिवसीय बाल दिवस का आयोजन  गुच्छ स्तर पर 14 15 नवंबर को मनाया गया इस अवसर पर विभिन्न सांस्कृतिक प्रतियोगिताएं , खेलकूद प्रतियोगिताएं आयोजित की गईं  l  5 अप्रैल 2017 को कक्षा प्रथम के छात्रों का विद्यालय प्रांगण में स्वागत किया गया उन्हें विभिन्न उपहार एवं पुस्तकें दी गई ताकि इन नए आगंतुक छात्रों को विद्यालय का परिवेश सहज लगे l 19 दिसंबर 2017 को डाक विभाग द्वारा अंतरराष्ट्रीय पत्र लेखन का आयोजन किया गया जिसमें 12 छात्रों ने भाग लिया यह छात्र कक्षा 7 से 11वीं तक की कक्षाओं के थे स्वस्थ बच्चे स्वस्थ भारत के अंतर्गत कार्यशाला का आयोजन के .वी. पिंजोर में किया गया इस में भाग लेने वाले अध्यापक थे श्री राजेश कुमार स्नातकोत्तर वाणिज्य , श्री विशाल प्राथमिक शिक्षक श्रीमती अनुराधा प्रशिक्षित स्नातक विज्ञान यह कार्यशाला 24 अक्टूबर से 25 अक्टूबर 2017 तक  आयोजित की गई l  30 नवंबर से 4 दिसंबर 2017 तक सतर्कता जागरूकता अभियान का आयोजन किया गया l इसके अंतर्गत छात्रों को विभिन्न प्रकार की ऐसी जानकारी दी गई जिससे वह समाज में शोषित न हो सके और साथ ही साथ उन्हें अपने अधिकारों एवं कर्तव्यों की जानकारी से भी अवगत करवाया गया l ऊर्जा संरक्षण पर आधारित 13 वी चित्रकला प्रतियोगिता 2017 में आयोजित की गई इस प्रतियोगिता में कक्षा 4 से 9 तक के छात्रों ने भाग लिया  l कक्षा 4 से 38 छात्र , कक्षा 5 से 41 छात्र , कक्षा 6 से 35 छात्र , कक्षा 7 से 35 छात्र कक्षा आठवीं से 38 छात्र और कक्षा नवमी से इस प्रतियोगिता में 40 छात्रों ने भाग लिया l  1 से 15 सितंबर 2017 तक विद्यालय में स्वच्छता पखवाड़े का आयोजन किया गया जिसमें छात्रों को स्वच्छता का महत्व बताया गया एवं अपने परिवेश को स्वच्छ बनाने में हमारी क्या भूमिका हो सकती है इसके बारे में विस्तार से चर्चा की गई l
भाषाओं का समुचित एवं समग्र विकास हो इसके लिए समय-समय पर   हिंदी पखवाड़ा , संस्कृत सप्ताह एवं अन्य भाषिक गतिविधियां आयोजित की गई l

केंद्रीय विद्यालय धर्मशाला में एन सी सी की शुरुआत इस उद्देश्य से की गई ताकि विद्यालय के छात्र अनुशासन के प्रति और सजग हो सकें और साथ ही छात्रों में सांप्रदायिक सद्भावना सहयोग की भावना और देश के प्रति समर्पित होने का भाव पुष्ट हो सके |
हमारे इस विद्यालय में एनसीसी के 50 छात्र हैं जिनमें से 18 छात्राएं एवं 32 छात्र हैं | समय- समय पर ये छात्र एन.सी.सी की विभिन्न गतिविधियों में भाग लेते हैं जो इन छात्रों में विभिन्न मानवीय गुणों के पल्लवन के साथ साथ देश प्रेम को मुख्य रूप से रोपित व पोषित करते हैं और इन छात्रों को बहुआयामी प्रतिभा से संपन्न  बनाते हैं |
   
केंद्रीय विद्यालय धर्मशाला में समय-समय पर विद्यार्थियों की विभिन्न समस्याओं से संबंधित काउंसलिंग भी की जाती है | इसी के अंतर्गत सुखविंदर सिंह चंडीगढ़ विश्वविद्यालय से 28 नवंबर 2018 को विद्यालय में आए जिन्होंने कक्षा 11 वीं एवं 12 वीं के विद्यार्थियों को बताया कि  कैसे विषय चुनें ताकि भविष्य में स्वावलंबी बन  सकें ये  छात्र अपनी व्यवसायिक शिक्षा में चयनित हो सके इसके लिए उन्हें तरह-तरह के विषयों /  कोर्स के बारे में बताया और विस्तार से यह भी बताया कि वह कैसे विभिन्न विश्वविद्यालयों में चयनित हो सकते हैं l


विद्यालय में समय-समय पर विभिन्न तरह की खेलकूद प्रतियोगिताएं भी आयोजित की जाती हैं ताकि बच्चे मन और मस्तिष्क एवं शारीरिक रूप से भी स्वस्थ रहें  l खेलकूद प्रतियोगिताओं में 18 बच्चों ने गुरुग्राम संभाग के विभिन्न स्कूलों में खेल  प्रतियोगिताओं में भाग लिया जिसमें बॉक्सिंग में तीन रजत पदक , दो कांस्य पदक  , टेबल टेनिस में दो लड़कियों ने रजत पदक जीते और एक ने कांस्य पदक जीता, एथलेटिक्स में एक लड़की ने 1500  मीटर दौड़ में रजत पदक  और 800 मीटर दौड़ में भी रजत पदक जीता l योग में स्वर्ण पदक केंद्रीय विद्यालय धर्मशाला की छात्राओं ने जीता और इसी के साथ दो लड़कियों का चयन राष्ट्र स्तरीय प्रतियोगिताओं जो  उड़ीसा में आयोजित की जाएंगी उनके लिए हुआ  l   


सामाजिक विज्ञान प्रदर्शनी के अंतर्गत  गुच्छ स्तर पर  पर आयोजित प्रतियोगिताओं में विद्यालय की तीन छात्राओं को प्रथम पुरस्कार मिला l साक्षी  कक्षा ग्यारवी की छात्रा अंग्रेजी वाद विवाद में प्रथम ( पक्ष में ), प्रियंका कक्षा नौ की छात्रा अंग्रेजी वाद-विवाद (विपक्ष में ), प्रथम एवं कक्षा ग्यारवी  '' की वनीता को सृजनात्मक लेखन में  प्रथम पुरस्कार दिया गया l  


सूचना एवं संपर्क तकनीक विभाग द्वारा विद्यालय के अध्यापकों एवं विद्यार्थियों की समय- समय पर मदद की जाती है ताकि उपलब्ध जानकारी को हम इंटरनेट पर उपलब्ध करवा सकें l सभी विद्यार्थियों से संबंधित जानकारी , अध्यापकों से संबंधित जानकारी एवं उस समग्र जानकारी को उच्च विभागों तक भेजना एवं इसी के साथ-साथ इस तकनीक को अध्यापकों एवं विद्यार्थियों के लिए सहज बनाने का कार्य निरंतर इस विभाग द्वारा किया  गया l


समय-समय पर अध्यापकों के लिए कार्यशालाओं का आयोजन किया जाता रहा  ताकि  आई सी टी की अधिक से अधिक जानकारी एवं उसका प्रयोग अध्यापकों एवं विद्यार्थियों द्वारा किया जाए और साथ ई-कक्षाओं में इसके माध्यम से जो जानकारी या विषय से संबंधित ज्ञान उपलब्ध है उसे सुविधापूर्वक छात्रों तक पहुंचाने का काम भी इस विभाग द्वारा समय-समय पर किया गया l

 

 

हिमाद्रि तुंग शृंग से प्रबुद्ध शुद्ध भारती 
स्वयं प्रभा समुज्ज्वला स्वतंत्रता पुकारती 
'अमर्त्य वीर पुत्र हो, दृढ़- प्रतिज्ञ सोच लो, 
प्रशस्त पुण्य पंथ है, बढ़े चलो, बढ़े चलो!' 

असंख्य कीर्ति-रश्मियाँ विकीर्ण दिव्य दाह-सी 
सपूत मातृभूमि के- रुको न शूर साहसी! 
अराति सैन्य सिंधु में, सुवाड़वाग्नि से जलो, 
प्रवीर हो जयी बनो - बढ़े चलो, बढ़े चलो!

 

प्राचार्या

श्री मती पुष्पा शर्मा

 

 

 

 


 

 

 
छात्र लॉगिन (यूबीआई) | शिक्षक लॉगिन (यूबीआई) | केवीएस आरओ | केवी संगठन | सीबीएसई | एनसीईआरटी | प्रवेश दिशानिर्देश | स्थानांतरण नीति | साक्षात | शिक्षा | संबद्धता के सीबीएसई मानदंड | वार्षिक विवरण
कॉपीराइट 2016, केवी धर्मशाला Today's Date : Sunday, June 16, 2019
Visitor No.